Top National & International News Of Entertainment
Currently Browsing: Breaking News

Beyond Music presents Rapper M Code’s Mumbai Meri Jaan to be a contemporary ode on City Mumbai

Beyond Music is known to give a platform to budding artists and helps them boost their creative creation. The much reputed production house this time has a Hip Hop treat for the audience. Written and performed by Rapper M Code, who’s also featured in the song – Mumbai Meri Jaan highlights the hustle full of life of a Mumbaikar.

The song is catchy and M Code makes it relatable to every viewer who has lived in Mumbai. The lyrics is drafted with finesse and the Hip Hop to it induces an impassioned beat.

M Code says, “Rapping has always been my hobby. Living in Mumbai and seeing the hustle and bustle of the city I always wanted to rap something on it. I wanted to hit the right chord for every viewer as the love for this city is innumerable for all. We have tried to include all aspects as much as we could. And hoping that the audience appreciates this work of ours. I heartily thank Beyond Music for giving me this opportunity.”

 

Beyond Music presents Mumbai Meri Jaan is written as well as sung by M Code. Directed by Ankit Uday Basrur, mixed and mastered by Sahir Nawab and Director of Photography were Hemant Chauhan, Athul Leonardo Nandhu and Pawan Barigala.


Kendra’s 6th Webaithak Marked By Melodious Vocal Recital

प्राचीन कला केन्द्र की छठीं वैबबैठक में शुभ्रा तलेगांवकर का मुग्धमयी गायन

कोविड के चलते केन्द्र आजकल संगीत को आॅनलाइन एवं सोशल मीडिया पर प्रचारित कर रहा है । इसी श्रृंखला में आज केन्द्र की छठीं वैबबैठक का आयोजन किया गया जिसे आगरा की युवा एवं प्रतिभाशाली शास्त्रीय गायिका शुभ्रा तलेगांवकर के गायन द्वारा सजाया गया ।जिसमें इनके साथ तबले पर श्री केशव तलेगांवकर एवं हारमोनियम पर श्रीमती प्रतिभा तलेगांवकर जी ने संगत की ।

शुभ्रा ग्वालियर घराने की युवा गायिका होने के साथ-साथ केन्द्र की प्रतिभाशाली छात्रा भी रही है। अल्पायु से ही संगीत के क्षेत्र में अपनी प्रस्तुतियां दी हैं । शुभ्रा की संगीत में ख्याल,ठुमरी और तराना पर खास पकड़ है । शुभ्रा ने राग बागेश्री से कार्यक्रम की शुरूआत की जिसमें उन्होंने मध्य लय विलम्बित रूपक ताल में निबद्ध रचना ‘‘काहे से कहूं मन की बतीयां’’ पेश की । उपरांत मध्य लय तीन ताल में सजी बंदिश ‘‘जावो जावो रे मुरारी’’ प्रस्तुत की ।

कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए शुभ्रा ने द्रुत तीन ताल में निबद्ध तराना पेश किया जिसके रचयिता उनके पिता एवं गुरू केशव तलेगांवकर है । उपरांत शुभ्रा ने देस राग में निबद्ध खूबसूरत बंदिश ‘‘सावन की ऋतु आई’’ पेश करके समां बांधा । कार्यक्रम का समापन शुभ्रा ने मौसम के अनुरूप कजरी से किया । इस कजरी के बोल ‘‘ बूंदीयन बरसन लागी ओ रामा मोरे अंगने में’’। ये कजरी शुभ्रा के दादा पंडित रघुनाथ तलेगांवकर द्वारा रचित है ।


Sharad Yadav : To Fight Corona Disease State Government Did Not Take Appropriate Steps

कोरोना बीमारी से जंग के लिए नहीं उठे उचित कदम : शरद यादव

बिहार में लगातार कोरोना के मामलों की वृद्धि को लेकर देश के दिग्गज नेता शरद यादव ने सरकार की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने आज प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि राज्य सरकार इस बीमारी से लड़ने के लिए उचित कदम उठाने में बेहद विफल हुई है। बिहार सरकार ने कोरोना को हल्के में लिया, जिससे मामले प्रतिदिन दुगने होने लगे हैं जो बहुत ही चिंताजनक है। राज्य में टेस्टिंग भी जितनी होनी चाहिए नहीं हो रही हैं तो सही पता कैसे लगेगा कि कितने लोग इस बीमारी से ग्रसित हैं। जितना आंकड़ा सरकार द्वारा बताया जा रहा है उस पर विश्वास नहीं कर सकते हैं क्योंकि जितने टेस्ट होने चाहिए नहीं किए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा अचानक तालाबंदी के बाद किसी भी मामले को चाहे वह प्रदासी मजदूरों का हो या छात्रों का हो कुशलता से नहीं संभाला है। जो क्वारंटाइन केंद्र भी बनाए थे, उनमें भी आवश्यक सुविधाए उपलब्ध नहीं कराई गई थी। इस तरह से राज्य सरकार ने शुरू से ही कोरोना बीमारी के लिए उठाने वाले कदमों में ढिलाई बरती ,है जो निंदनीय है। सरकार का काम जनता के जन जीवन आवश्यक सुविधाएं प्रदान करना होता है जिससे जनता सुखी जीवन व्यतीत कर सके मगर बिहार सरकार की इसमें कोई रुचि नहीं दिखाई पड़ती है।

श्री यादव ने आश्चर्य जताते हुए कहा कि बिहार सरकार को काफी समय तैयारी का भी मिल गया था, उसके बावजूद भी कोई ऐसा काम नहीं किया, जिससे की जनता को बीमारी से बचाया जा सके। नीतीश सरकार को बिल्कुल भी जनता के वोट की चिंता नहीं है जैसे कि जनता उनके हाथ में है। बिहार राज्य में 13 करोड़ की जनसंख्या है उसपर प्रतिदिन 9-10 हजार टेस्ट किए जा रहे हैं जबकि दिल्ली में जनसंख्या कुल 2 करोड़ है और यहां पर 20 हजार टेस्ट किए जा रहे हैं। यह बढुत गंभीर बात है कि एनडीए की सरकार केन्द्र और राज्य में होते हुए भी जनता को बीमारी से बचाने के लिए कोई राज्य में ठोस कदम नहीं उठाए गए हैं। दिन प्रतिदिन बिहार में हालात बिगड़ते जा रहे हैं मगर सरकार ठीक आंकड़े जनता को बता नहीं रही है जो और भी जनता के हित के खिलाफ काम करने जैसा है क्योंकि जनता इतनी सतर्क नहीं होगी जितना होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि एनडीए सरकार बिहार में हर मोर्चे पर विफल हो रही है। आम जनता के हित का कोई भी मामला हो कानून व्यवस्था से लेकर, महिलाओं की सुरक्षा, सफाई व्यवस्था, बाढ़, नौकरी, शिक्षा, स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराना, कोई भी मामला उठा लें किसी में भी जनता को राहत नहीं दे पारही है और इसलिए ऐसी सरकार को बने रहने का कोई मतलब नहीं है। अभी के लिए राज्य सरकार को टेस्टिंग बहुत ज्यादा करनी चाहिए और बीमारी का इलाज करने के लिए ज्यादा से ज्यादा केन्द्र बनाने चाहिए।


Rotary Mid Town – Distribution Of Masks And PPE Kits To Protect Against Corona

कोरोना से बचाव के लिए किया गया मास्‍क व पीपीई किट का वितरण

रोटरी मिड टाउन ने जन कल्याणकारी योजनाओं के तहत कैंसर उपचार एवम् जागरुकता के क्षेत्र में अग्रणी संस्था आर.एस मेमोरीयल कैंसर सोसाइटी की ओर से कोरोना से बचाव के लिए सैकड़ों पीपीई किट व मास्क़ इत्यादि का वितरण किया गया। इन उपयोगी सामग्री का वितरण सवेरा कैंसर होस्पिटल के प्रांगण में किया गया। इस अवसर पर प्रख्यात कैंसर रोग विशेषज्ञ वी पी सिंह ने लोगों को कैंसर सहित कोरोना के लक्षण एवं घरेलू उपचार के उपाय बतायें ।

मौके पर सोशल डिसटेंडिंग के महत्व पर चर्चा हुई और लोगों से इसके लिए खासतौर पर अपील भी की गई। कार्यक्रम का संचलन पद्म श्री आर एन सिंह के मार्गदर्शन में हुआ। मौके पर गोपाल खेमका – इमिडिएट पास्ट डिस्टिक गवर्नर, अभिषेक अकेला – प्रेसीडेंट, राकेश टेस्वर -सदस्य, रौशन बाग़ – सचिव , राजेश गुप्ता – कोषाध्यक्ष उपस्थित थे। ज्ञात हो की रोटरी मिड टाउन के सहयोग से आर एस मेमोरीयल कैंसर सोसाइटी द्वारा संचालित डायगनोस्टिक विभाग की स्थापना पिछले वर्ष की गयी थी। जिसका उद्देश्य ग़रीबों को मुफ़्त एवम् रियायती दरों पर कैंसर सम्बंधित विशेष जाँच की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। इसके लिए एक साल पूरे होने के मौके पर यह कार्यक्रम आयोजित किया गया ।


Enzyme 19 At Present Best To Keep Covid 19 Virus Away From Us

As we all are aware of due to Corona Covid 19 whole world is in trouble. So far there is no vaccine and medicine is available.

At present what best we can do is to keep Virus away from us.We should not allowed to infect us. At present we are using alcohol based sanitiser to rub on hands.some people are spaying using dangerous chemical spray to kill this virus.Which is most harmful to human body may cause several disease.Such spray are not allowed by Govt.We watch such viral video on TV and social media.

Enzyme is very useful for human body which plays vital role in various function of human body. We have invented fruit base Enzyme 19 which is 100 % useful to keep away virus.

How Enzyme 19 work

The size of  virus is 0.125 Micron which is protein and size of Enzyme 19 molecule is 0.003 micron.

When we Spray this Enzyme on human body , vegetables or any other object then in thousand of number enzyme19 molecule attack on bacteria and virus and deactivates them .It breaks its protein layer and  RNA .Effect of Enzyme 18 remain for 24 hours.USP of Enzyme19 is Fight against virus and all bacteria’s . USP of Enzyme 19 is 100%Natural and chemical free.Bio degradable material.

  • Safe for human being
  • Alcohol free .No side effect .Economical
  • All lab test reports and certificate from Haffkin Institute is available.

     

विषाणू संसर्ग टाळण्यासाठी एन्झाइम १९

सध्या जगात कोरोना कोविड १९ या विषाणूने थैमान मांडले असून जगभर आरोग्य आणीबाणीची भयानक परिस्थिती निर्माण झाली आहे. या अतिसंसर्गजन्य रोगामुळे लाखो रुग्ण जीवन मरणाच्या उंबरठ्यावर आहेत. आपल्या भारतातही रोगाचा प्रसार झपाट्याने झालेला असल्याने त्या विषाणूपासून निर्जंतुकीकरण करणे आता आवश्यक बनले आहे. या विषाणू वरती अजून लस किंवा औषध मिळालेले नाही. या त्यामुळे आपण या विषाणूला दूर ठेवून आपल्या शरीरात जाणार नाही हेच जपले पाहिजे.

हे करत असताना या विषाणूशी लढण्यासाठी अजाणतेपणाने आपण घातक रसायनाचा व सॅनिटायझरचा वापर करत आहोत. रसायने शरीरास अपायकारक आहेत. त्यांचे आपल्या शरीरावर विपरीत परिणाम होऊ शकतात तसेच विविध रोग होऊ शकतात. यामुळे ही कृत्रिम रसायने कायम स्वरूपी उपाय होऊ शकत नाही व त्याचाच वारंवार आपण वापरही धोकादायक ठरू शकतो.

या समस्ये वरती आता आम्ही कायम स्वरूपी उपाय शोधला आहे. तो म्हणजे एन्झाइम १९ (BIODEGRADON  TM )विविध प्रकारची हीच एन्झाइम माणसाच्या शरीरात महत्वाची भूमिका वठवतात. त्यापासूनच प्रेरित होऊन एन्झाइम १९ बनवले आहे. कृत्रिम रसायन विरहित असलेल्या या उत्पादनात फळांच्या रसातील एन्झाइमचा वापर केलेला आहे.

हे पर्यावरण पूरक उत्पादन. कार्यालय, घर किंवा बाह्य स्वरूपातील फवारणी व निर्जंतुकीकरणासाठी एन्झाइम अत्यंत उपयुक्त ठरत आहे. हे संपूर्ण स्वदेशी आणि १०० टक्के नैसर्गिक उत्पादन आहे.

कोरोना विषाणूचा आकार ०.१२५ मायक्रॉन आहे ते एक प्रोटीन आहे व एन्झाइम १९ चा आकार 0.003 to 0.007 मायक्रॉन आहे त्याचा स्प्रे मारल्यावर तो करोना विषाणूवर हल्ला करून  विषाणू नष्टकरून टाकतो व विषाणूच्या निर्मितीची व पुनर्रचनेची साखळी तुटते. हे एन्झाइम १९ आपल्या शरीरावर २४ तास कार्यरत राहते व आपला स्पर्श झाल्यानंतर चिकटणाऱ्या विषाणूला नष्ट करते. मात्र पर्यावण पूरक असल्याने मानवी शरीरास काही अपाय करत नाही. यात कुठलेही रसायन  किंवा अल्कहोल नाही. एन्झाइम १९ ( BIODEGRADON TM) ट्रेडमार्क नोंदणीकृत असून राष्ट्रीय स्तरावरही हाफकिन इन्स्टिटयूट, सोमय्या आयुर्विहार प्रयोगशाळा , BTS LAB अशा ठिकाणी याची प्रयोगशाळेत तपासणी होऊन प्रमाण पत्र मिळालेली आहेत.


« Previous Entries

Powered by WordPress | Designed by Elegant Themes